झालोद के नगरसेवक हिरेन पटेल हत्याकांड के मामले में गुजरात ATS का बड़ा खुलासा (RGTV) ROYAL GUJARAT NEWS HINDI

 

जालोद के नगर पार्षद हिरेन पटेल हत्याकांड में गुजरात एटीएस का बड़ा खुलासा कांग्रेस विधायक भावेश कटारा और पूर्व सांसद बाबू कटारा के भाई अमित कटारा के इशारे पर हिरण पटेल की हत्या की सुपारी दी गई  पार्षद की हत्या किसी निजी रंजिश में नहीं है बल्कि राजनीतिक षड्यंत्र के तहत की गई है इस हत्या में शामिल इमरान उर्फ इमो गुंडाला को हरियाणा से गिरफ्तार करने के बाद यह खुलासा हुआ कि लगभग 3 महीने पहले जालोद के पार्षद हिरेन पटेल की हत्या कर दी गई थी इस मामले में स्थानीय पुलिस को कुल 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया था परंतु इस गिरफ्तारी में राज्यकीय षड्यंत्र की गंध आ रही थी यह मामला गुजरात के गृह मंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा के समक्ष आया और फिर गुजरात एटीएस को आदेश दिया की फरार आरोपीयो को गिरफ्तारियां की जाए और इसकी जांच की जाए गुजरात एटीएस के जांच के दौरान एटीएस ने इमरान को हरियाणा से गिरफ्तार किया और उससे पूछताछ में हत्या के मुख्य आरोपी और षड्यंत्र रचने में अजीत कटारा का नाम सामने आया जिसकी स्थानीय पुलिस तलाश कर रही है पार्षद की हत्या में शामिल आरोपियों से पूछताछ करने के बाद इस मामले में सभी आरोपियों की भूमिका स्पष्ट हो गई है जिसमें मुख्य आरोपी अमित कटारा ने और गिरफ्तार आरोपी इमरान के साथ मिलकर गोधरा कांड के आरोपी इरफान पाड़ा को लगभग 3 लाख की सुपारी दी थी जिसमें इरफान ने पैरोल पर आने के बाद हत्या को अंजाम दिया हत्या के लिए इरफान पटेल का घर दिखाया की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस विधायक भरत कटारा के भाई और पूर्व सांसद बाबू कटारा कटारा हत्या करवाई है ऐसा खुलासा हुआ है  जालोद के नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष हिरण पटेल जालोद के सरकारी बैंक को तथा बाजारों केला वानी मंडल और अन्य कई संगठनों से जुड़े थे हिरेन पटेल लगातार तीन बार नगर पालिका में पार्षद के चुना गया शहर में उनकी सेवा गतिविधियां और सामाजिक कार्यों में अच्छा नाम था